Dissect this blog

शनिवार, 19 दिसंबर 2009

रसगुल्ले (Rasgulle)

६ व्यक्तियों के लिए 

सामग्री :

  •  १ लीटर गाय का दूध 
  • १/४ छोटा चमच निम्बू का रस १/२ प्याला पानी में घुला हुआ 
  • १ छोटा चमच मैदा 
  • १ प्याला चीनी 
  • ३ प्याले पानी 
  • कुछ बूंदे गुलाब फूल एसेंस 
तयारी :
छेना (पनीर बनाने की विधि ): पतीले में दूध को उबालिए और ठंडा होने दीजिये | ऊपर की मलाई पूरी तरह निकाल लीजिये | फिर से दूध को गरम कीजिये | लगातार चलाते हुए थोडा - थोडा निम्बू का सत मिलाईये | जब दूध फट जाए तोह पतीले को आंच से नीचे उतार कर १५ मिनुट तक ढक कर रखिये | एक भगोने पर मलमल का कपडा रख कर फटा हुआ दूध उस पर उंडेल दीजिये और कपडे के सभी कोनो को समेट कर छेने से ५ सेन्टीमीटर ऊपर बाँध कर पोटली बना ले | पोटली को १५ मिनुट तक टांग दीजिये | पोटली को हल्का सा दबाकर नीचे उतार लीजिये और दो सपाट तख्तियों के दरम्यान रखिये | ऊपर की तख्ती पर लगभग २ किलो का वजन १ घंटे तक रखिये | वजन हटाईये | पोटली खोल कर छेना निकाल लीजिये |
छेना सपाट तश्तरी में डालकर हथेली से लगभग १/२ मिनुट तक मलिए | छेने में मैदा डालिए और तब तक मिलते रहिये जब तक छेना नरम और मुलायम न बन जाए (लगभग ५ मिनुट) इस मिश्रण को १२ सामान हिस्सों में बांटिये और प्रत्येक हिस्से को हथेलियों के बीच हलके दबाव के साथ घुमाते हुए मुलायम गोलिया बनाईये |
कूकर में पानी व चीनी डालकर तेज आंच पर रखिये | चीनी घुल जाने तक लगातार चलाते रहिये | जब पानी खोलने लगे तो एक -एक करके छेने की गोलियां चाशनी में धीरे -धीरे डालते जाईये |कूकर बंद कीजिये |तेज आंच पर पूर्ण प्रेसुर आने दीजिये | आंच कम कर ७ मिनुट तक पकाईये |
कूकर को आंच से नीचे उतारिये और अपने ठंडा होने दीजिये | कूकर को खोलिए और गुलाब फूल एसेंस दाल कर चलाईये | एक डोंगे में रसगुल्ले निकाल लीजिये | ठन्डे होने पर परोसिये |

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
swadisht bhojan Copyright © 2009 Blogger Template Designed by Bie Blogger Template